🙏 जीवन में कुछ पाना है तो झुकना होगा, कुएं में उतरने वाली बाल्टी झुकती है, तब ही पानी लेकर आती है| 🙏
Home2018August

तत्व: आग
शुभ रंग: लाल
शुभ दिन: मंगलवार
शासक ग्रह: मंगल ग्रह
सबसे बड़ी समग्र संगतता: तुला राशि, सिंह राशि
भाग्यशाली संख्या: 1, 8, 17
तिथि सीमा: 21 मार्च – 19 अप्रैल

सभी पौधे प्रकाश संश्लेषण के माध्यम से ऑक्सीजन जारी करते हैं, लेकिन कुछ विशेष प्रजातियों में एयर-फ़िल्टरिंग सिस्टम भी अंतर्निहित हो सकते हैं।

तत्व: पृथ्वी
शुभ रंग: हरा, गुलाबी
शुभ दिन: शुक्रवार, सोमवार
शासक ग्रह: शुक्र ग्रह
सबसे बड़ी समग्र संगतता: वृश्चिक राशि, कैंसर राशि
भाग्यशाली संख्या: 2, 6, 9, 12, 24
तिथि सीमा: 20 अप्रैल – 20 मई

तत्व: वायु
शुभ रंग: हल्का-हरा, पीला
शुभ दिन: बुधवार
शासक ग्रह: बुध ग्रह
सबसे बड़ी समग्र संगतता: धनु राशि, कुंभ राशि
भाग्यशाली संख्या: 5, 7, 14, 23
तिथि सीमा: 21 मई – 20 जून

तत्व: पानी
शुभ रंग: सफ़ेद
शुभ दिन: सोमवार, गुरुवार
शासक ग्रह: चंद्रमा ग्रह
सबसे बड़ी समग्र संगतता: मकर राशि, वृषभ राशि
भाग्यशाली संख्या: 2, 3, 15, 20
तिथि सीमा: 21 जून – 22 जुलाई

तत्व: आग
शुभ रंग: सुनेहरी, पीला, ऑरेंज
शुभ दिन: रविवार
शासक ग्रह: सूर्य ग्रह
सबसे बड़ी समग्र संगतता: कुंभ राशि, मिथुन राशि
भाग्यशाली संख्या: 1, 3, 10, 19
तिथि सीमा: 23 जुलाई – 22 अगस्त

तत्व: पृथ्वी
शुभ रंग: ग्रे, बेज, पीला
शुभ दिन: बुधवार
शासक ग्रह: बुध ग्रह
सबसे बड़ी समग्र संगतता: मीन राशि, कर्क राशि
भाग्यशाली संख्या: 5, 14, 15, 23, 32
तिथि सीमा: 23 अगस्त – 22 सितंबर

तत्व: वायु
शुभ रंग: गुलाबी, हरा
शुभ दिन: शुक्रवार
शासक ग्रह: शुक्र ग्रह
सबसे बड़ी समग्र संगतता: मेष राशि, धनु राशि
भाग्यशाली संख्या: 4, 6, 13, 15, 24
तिथि सीमा: 23 सितंबर – 22 अक्टूबर

तत्व: पानी
शुभ रंग: लाल, जंग
शुभ दिन: मंगलवार
शासक ग्रह: प्लूटो, मंगल ग्रह
सबसे बड़ी समग्र संगतता: वृषभ राशि, कर्क राशि
भाग्यशाली संख्या: 8, 11, 18, 22
तिथि सीमा: 23 अक्टूबर – 21 नवंबर

(1) प्रभु का स्मरण करने का रास्ता भी एक है तथा मंजिल भी एक है :-

विश्व भर में जो धर्म के नाम पर लड़ाई-झगड़ा हो रहा है, उसके पीछे एकमात्र कारण हमारा अज्ञान है। प्रायः लोग कहते हैं कि प्रभु का स्मरण करने के अलग-अलग धर्म के अलग-अलग रास्ते हैं किन्तु मंजिल एक है। सभी धर्मों के पवित्र ग्रन्थों के अध्ययन के आधार पर हमारा मानना है कि प्रभु को स्मरण करने का रास्ता भी एक है तथा मंजिल भी एक है। प्रभु की इच्छा व आज्ञा को जानना तथा उस पर दृढ़तापूर्वक चलते हुए प्रभु का कार्य करना ही प्रभु को स्मरण करने का एकमात्र रास्ता है। सिटी मोन्टेसरी स्कूल की स्कूल प्रेयर बहुत गहरी है – हे ईश्वर, तुने मुझे इसलिए उत्पन्न किया है कि मैं तुझे जाँनू तथा तेरी पूजा करूँ। हमारा जीवन केवल दो कामों के लिए (पहला) प्रभु की शिक्षाओं को भली प्रकार जानने तथा (दूसरा) उसकी पूजा (अर्थात प्रभु का कार्य ) करने के लिए हुआ है। सभी पवित्र ग्रन्थों गीता, त्रिपटक, बाईबिल, कुरान, गुरूग्रन्थ साहिब, किताबे अकदस की शिक्षायें एक ही परमात्मा की ओर से आयी हैं तथा हमें उसी एक परमात्मा का कार्य करने की प्रेरणा भी देती हैं। हम मंदिर, मस्जिद, गिरजा तथा गुरूद्वारा कहीं भी बैठकर पूजा, इबादत, प्रेयर, पाठ करें, उसको सुनने वाला परमात्मा एक ही है। इस प्रकार हम सब एक है, ईश्वर एक है तथा धर्म एक है।

🙏 ♻ प्रयास करें कि जब हम आये थे उसकी तुलना में पृथ्वी को एक बेहतर स्थान के रूप में छोड़ कर जाएं। सागर में हर एक बूँद मायने रखती है। ♻ 🙏