🙏 भारतीय हस्तशिल्प खरीदें और समर्थन करें 🙏

Homeदीपावली

दीपावली

देवी लक्ष्मी व गणेश जी की पूजा दीवाली त्यौहार की सबसे अहम व बड़ी रस्म है जिसको कोई भी नहीं छोड़ सकता है।

दीवाली हिन्दुओं का सबसे बड़ा व् विशेष त्यौहार है जिसे ये सम्प्रदाय बहुत ही हर्षोउल्लास के साथ मनाता है। यह पर्व हर बरस अक्टूबर या नवंबर के महीने मनाया जाता है।

हिन्दू धर्म में इस पर्व को मनाने के पीछे कई धार्मिक कारण जुड़े हुए है। इसको हिन्दू संस्कृति व धर्म की उन्नति के सन्दर्भ में देखा जाता है।

भारत में कोई अतिश्योक्ति नहीं है की यह पर्व ख़ुशी उमंग उत्साह खुशहाली अच्छाई की बुराई पर विजय का प्रतीक है।

भारत में कोई अतिश्योक्ति नहीं है की यह पर्व ख़ुशी उमंग उत्साह खुशहाली अच्छाई की बुराई पर विजय का प्रतीक है।

दीपावली का त्यौहार लोकप्रिय हो गया है क्यूंकि इसको बहुत ही हर्षो उत्साह व रंगीनी से मनाया जाता है।

दीपावली के पर्व में उपहार हमेशा से ही एक अभिन्न व् अटूट अंग रहे है। रिवाज़ के तौर पर इस पर्व पर सबको उपहार देने का प्रचलन है।

दीवाली वह त्यौहार है जो हमारी ज़िन्दगी को रंगो से भर देता है। इस पर्व के महीने के आते ही सब लोग इसमें जुट जाते है।

दीवाली का त्यौहार रौशनी व् चकाचौंध से सम्बंधित है तभी तो इसे रौशनी का पर्व कहा जाता है।

🙏 भारतीय हस्तशिल्प खरीदें और समर्थन करें 🙏