Homeसिक्ख गुरु साहिबानश्री गुरु हरिराय जीश्री गुरु हरिराय जी – ज्योति ज्योत समाना

श्री गुरु हरिराय जी – ज्योति ज्योत समाना

दूसरे दिन कार्तिक वदी ९ संवत १७१८ विक्रमी को गुरु जी ने अपने आसन पर चौकड़ी मार ली| अपने श्रद्धानंद स्वरूप में वृति जोड़कर शरीर को त्याग दिया व सच क्खंड जा विराजे| आप जी के पांच तत्व के शरीर को चन्दन कि चिता में तैयार करके गुरु हरिगोबिंद जी के द्वारा निर्मित पतालपुरी के स्थान के पास अग्निभेंट कर दिया गया|

“श्री गुरु हरिराय जी – ज्योति ज्योत समाना” सुनने के लिए Play Button क्लिक करें | Listen Audio

 

Khalsa Store

Rs. 199
Rs. 299
1 new from Rs. 199
Amazon.in
Rs. 2,295
Rs. 2,655
1 new from Rs. 2,295
Amazon.in
Free shipping
Rs. 285
Rs. 449
4 new from Rs. 277
Amazon.in
Rs. 3,999
2 used from Rs. 1,768
Amazon.in
Rs. 250
3 new from Rs. 250
Amazon.in
Rs. 3,320
2 new from Rs. 3,320
1 used from Rs. 1,550
Amazon.in
Last updated on September 18, 2018 2:02 am

Click the button below to view and buy over 4000 exciting ‘KHALSA’ products

4000+ Products

 

Write Comment Below
Also Read:   सिक्खी का जहाज फूटना - साखी श्री गुरु हरिराय जी
Munish Ahuja Founder SpiritualWorld.co.in

Munish Ahuja Founder SpiritualWorld.co.in

नम्र निवेदन: वेबसाइट को और बेहतर बनाने हेतु अपने कीमती सुझाव कॉमेंट बॉक्स में लिखें, यह आपको अच्छा लगा हो तो अपनें मित्रों के साथ अवश्य शेयर करें। धन्यवाद।
NO COMMENTS

LEAVE A COMMENT