🙏 जीवन में कुछ पाना है तो झुकना होगा, कुएं में उतरने वाली बाल्टी झुकती है, तब ही पानी लेकर आती है| 🙏
Homeआरती संग्रहश्री संणु जी की आरती – Shri Sandu Ji Ki Aarti

श्री संणु जी की आरती – Shri Sandu Ji Ki Aarti

श्री संणु जी की आरती - Shri Sandu Ji Ki Aarti

धूप दीप घुत साजि आरती |
वारने जाउ कमलापति || १ ||

“श्री संणु आरती” सुनने के लिए Play Button क्लिक करें | Audio Shri Sandu Aarti

श्री संणु जी की आरती इस प्रकार है:

मंगलाहरि मंगला |
नित मंगल राजा राम राई को || रहउ०
उत्तम दियरा निरमल बाती |
तुही निरंजन कमला पाती |
रामा भगति रामानंदु जानै |
पूरन परमानन्द बखानै |
मदन मूरति भै तारि गोबिन्दे |
सैणु भणै भजु परमानन्दे |

Spiritual & Religious Store – Buy Online

Click the button below to view and buy over 700,000 exciting ‘Spiritual & Religious’ products

700,000+ Products
NO COMMENTS

LEAVE A COMMENT

🙏 ♻ प्रयास करें कि जब हम आये थे उसकी तुलना में पृथ्वी को एक बेहतर स्थान के रूप में छोड़ कर जाएं। सागर में हर एक बूँद मायने रखती है। ♻ 🙏