🙏 सतनाम वाहे गुरु, गुरु पर्व की असीमित शुभकामनाएं... आप सभी पर वाहे गुरु की मेहर हो! 23 Nov 2018 🙏
Homeशिक्षाप्रद कथाएँगधा और सिंह – शिक्षाप्रद कथा

गधा और सिंह – शिक्षाप्रद कथा

गधा और सिंह - शिक्षाप्रद कथा

एक सिंह और एक गधे में आपस में बहुत गहरी मित्रता थी| यद्यपि उनका स्वभाव भिन्न था, परंतु वे हमेशा साथ-साथ ही घूमते थे| गधा और सिंह जहां भी जाते, वहीं वन्य प्राणियों में भगदड़ मच जाती| दरअसल, यह होता तो शेर की वजह से था, मगर गधे को बड़ी भरी गलतफहमी हो गई थी कि सभी जीव-जन्तु उससे भी दहशत खाते हैं और वह भी एक बलशाली जीव हैं|

एक बार जब वे जंगल में साथ-साथ घूम रहे थे तो उन्होंने भेड़ियों का एक झुंड देखा| भेड़ियों को देखते ही गधे की मानसिक वीरता जाग उठी और वह सिंह की नकल करता हुआ मुंह खोल जोर-जोर से ‘ढींचू-ढींचू’ करता हुआ उनकी ओर ऐसे झपटा जैसे उन्हें खा जाएगा|

भेड़ियों में भगदड़ मच गई| सभी अपनी जान बचाने के लिए इधर-उधर भागने लगे| जिसको जिधर मौका लगा उधर भाग निकला| उन्होंने पीछे मुड़ कर भी नहीं देखा|
यह सब देखकर गधा बहुत प्रसन्न हुआ| बहुत गर्व से चलता हुआ वह वापस शेर के पास आया|

उसको देखकर सिंह ने कहा – “क्यों मित्र, इतनी जोर-जोर से क्यों रेंक रहे थे? क्या बात थी?”

“अरे! मित्र, शायद तुमने मेरी वीरता नहीं देखी| भेड़ियों का झुंड मुझे देखते ही इधर-उधर भाग गया| वे समझे मैं उन्हें खा जाऊंगा| कितने डरपोक हैं|” गर्व से सीना फुलाकर गधे ने कहा|

उसकी बात सुनकर सिंह ठहाका मारकर हंसने लगा – “ओह! तो यह कारण है जो तुम इतने प्रसन्न हो| अरे, तुम मेरे मित्र हो इसमें कोई संदेह नहीं| फिर भी तुम्हें यह बात याद रखनी चाहिए कि तुम एक गधे हो, सिंह नहीं| भेड़िए तुम्हारे डर से नहीं, बल्कि इसलिए भाग गए क्योंकि मैं तुम्हारे साथ था| एक दोस्ताना सलाह देता हूं – कभी अकेले हो तो यह काम मत करना, वरना वही भेड़िए तुम्हें टुकड़े-टुकड़े करके खा जाएंगे|”

शिक्षा: दूसरों के बल पर किसी से शत्रुता नहीं करनी चाहिए|

Spiritual & Religious Store – Buy Online

Click the button below to view and buy over 700,000 exciting ‘Spiritual & Religious’ products

700,000+ Products
Munish Ahuja Founder SpiritualWorld.co.in

Munish Ahuja Founder SpiritualWorld.co.in

नम्र निवेदन: वेबसाइट को और बेहतर बनाने हेतु अपने कीमती सुझाव कॉमेंट बॉक्स में लिखें, यह आपको अच्छा लगा हो तो अपनें मित्रों के साथ अवश्य शेयर करें। धन्यवाद।
NO COMMENTS

LEAVE A COMMENT

🙏 सतनाम वाहे गुरु, गुरु पर्व की असीमित शुभकामनाएं... आप सभी पर वाहे गुरु की मेहर हो! 23 Nov 2018 🙏