🙏 धर्म और आध्यात्म को जन-जन तक पहुँचाने में हमारा साथ दें| 🙏

जीना झूठ व मरना सच – साखी श्री गुरु नानक देव जी

जीना झूठ व मरना सच

एक दिन श्री गुरु नानक देव जी ने मरदाने को एक टके का झूठ व सच्च खरीदने के लिए भेजा| मरदाना बहुत दुकानों पर गया पर उसे कहीं से भी सत्य और झूठ न मिला|

“जीना झूठ व मरना सच – साखी श्री गुरु नानक देव जी” सुनने के लिए Play Button क्लिक करें | Listen Audio

अन्त में मूले किराड़ ने एक कागज पर “मरना सच” व दूसरे पर “जिउणा झूठ” लिखकर मरदाने को दिया| वह आप स्वयं भी उठकर मरदाने के साथ यह देखने के लिए आया कि यह सौदा खरीदने वाला कौन सा व्यापारी है|

गुरु जी के दर्शन करके मूला धन्य हो गया| नाम-दान की प्राप्ति लेकर गुरु जी का शिष्य बन गया| मुले के घर वाले इसी स्थान पर गुरुद्वारा बाऊली साहिब बना हुआ है|

श्री गुरु नानक देव जी – जीवन परिचय

 

श्री गुरु नानक देव जी – ज्योति ज्योत समाना

Khalsa Store

Click the button below to view and buy over 4000 exciting ‘KHALSA’ products

4000+ Products

 

🙏 धर्म और आध्यात्म को जन-जन तक पहुँचाने में हमारा साथ दें| 🙏