🙏 जीवन में कुछ पाना है तो झुकना होगा, कुएं में उतरने वाली बाल्टी झुकती है, तब ही पानी लेकर आती है| 🙏
Homeघरेलू नुस्ख़ेबीमारीयों के लक्षण व उपचारस्तनों के ढीलापन के 8 घरेलु उपचार – 8 Homemade Remedies for Breasts Sag

स्तनों के ढीलापन के 8 घरेलु उपचार – 8 Homemade Remedies for Breasts Sag

स्त्री की सुन्दरता तथा यौवन का निखार पुष्ट स्तनों से दिखाई देता है| इसलिए से प्राय: अपना स्तन पुष्ट और कठोर बनाने के लिए प्रयत्नशील रहती हैं| स्तनों में ढीलापन होना, समय के साथ उनका विकास न होना तथा उनमें कठोरता का अभाव होना आदि स्थितियां स्त्री को हीन भावना से ग्रस्त कर देती है|

“स्तनों के ढीलापन के 8 घरेलु उपचार” सुनने के लिए Play Button क्लिक करें | Homemade Remedies for Breasts Sag Listen Audio

स्तनों का ढीलापन के 8 घरेलु नुस्खे इस प्रकार हैं:

1. गाय का घी, तिल, निशोथ, बच, सोंठ और तिली का तेल

गाय का घी, काले तिल, काली निशोथ, बच तथा सोंठ – सबको मिलाकर पीस लें| फिर इनको आधा किलो तिली के तेल में पकाएं| थोड़ी देर बाद तेल को ठंडा करके शीशी में भर लें| इस तेल की मालिश सुबह स्नान करने से पूर्व स्तन पर 10 मिनट तक करें| स्तन पुष्ट तथा कठोर हो जाएंगे|


2. जैतून और फिटकिरी

जैतून के तेल में थोड़ी-सी फिटकिरी पीसकर मिला लें| फिर इस तेल से स्तनों की अच्छी तरह मालिश करें|


3. पानी, अनार और हल्दी

कंधारी अनार के छिलकों को पानी के साथ पीसकर पेस्ट बना लें| इसमें 5 ग्राम पिसी हुई हल्दी मिलाए| अब इसे दोनों स्तनों पर निप्पल छोड़कर लगाएं| सूखने के बाद उरोजों को धो डालें| शीघ्र ही स्तनों की ढीली मांसपेशियों में तनाव आ जाएगा|


4. अंडा, नीबू, दूध और बेसन

एक अंडा, नीबू का रस 10 ग्राम और बेसन 10 ग्राम – तीनों को दूध के साथ अच्छी तरह फेंट लें| फिर इस पेस्ट को स्तनों पर लगाएं|


5. राई

राई पीसकर स्तनों पर लगाएं| स्तन पुष्ट हो जाएंगे|


6. बरगद

बरगद के दूध की स्तनों पर मालिश करें|


7. एरण्ड और गन्ना

एरण्ड के पत्तों को गन्ने के सिरके में पीसकर स्तनों पर लेप लगाएं|


8. शहद और माजूफल

शहद में माजूफल का चूर्ण मिलाकर स्तनों पर लेप करें|

 

स्तनों के ढीलापन का कारण

शारीरिक कमजोरी, मासिक धर्म की अनियमितता, अधिक सम्भोग, शरीर में बुखार का रहना आदि कारणों से स्तन ढीले पड़ जाते हैं| कुछ स्त्रियों के स्तनों की गोलाई बहुत कम होती है| ऐसी हालत में स्त्री को कोई न कोई रोग अवश्य होता है, क्योंकि तब स्तनों को पुष्ट करने वाले हारमोन ठीक से नहीं बन पाते हैं|

स्तनों के ढीलापन की पहचान

ऐसी स्त्रियों के स्तन ढीले अथवा छोटे होते हैं| उन्हें घर, परिवार तथा स्त्री-समाज में एक प्रकार की लज्जा का अनुभव होता है| वे हीन भावना से ग्रस्त तथा चिंतित रहती हैं|

NOTE: इलाज के किसी भी तरीके से पहले, पाठक को अपने चिकित्सक या अन्य स्वास्थ्य देखभाल प्रदाता की सलाह लेनी चाहिए।

Consult Dr. Veerendra Aryavrat - +91-9254092245 (Recommended by SpiritualWorld)
Consult Dr. Veerendra Aryavrat +91-9254092245
(Recommended by SpiritualWorld)

Health, Wellness & Personal Care Store – Buy Online

Click the button below to view and buy over 50000 exciting ‘Wellness & Personal Care’ products

50000+ Products
2 COMMENTS
  • pooja / August 12, 2018

    Consider also taking natural breast breast reduction capsule.

LEAVE A COMMENT

🙏 ♻ प्रयास करें कि जब हम आये थे उसकी तुलना में पृथ्वी को एक बेहतर स्थान के रूप में छोड़ कर जाएं। सागर में हर एक बूँद मायने रखती है। ♻ 🙏