🙏 धर्म और आध्यात्म को जन-जन तक पहुँचाने में हमारा साथ दें| 🙏
Homeशिक्षाप्रद कथाएँजीत किसकी? (बादशाह अकबर और बीरबल)

जीत किसकी? (बादशाह अकबर और बीरबल)

बादशाह अकबर जंग में जाने की तैयारी कर रहे थे| फौज पूरी तरह तैयार थी| बादशाह भी अपने घोड़े पर सवार होकर आ गए| साथ में बीरबल भी था| बादशाह ने फौज को जंग के मैदान में कूच करने का निर्देश दिया|

“ईमानदारी” सुनने के लिए Play Button क्लिक करें | Listen Audio

बादशाह आगे-आगे थे, पीछे-पीछे उनकी विशाल फौज चली आ रही थी| रास्ते में बादशाह को जिज्ञासा हुई और उन्होंने बीरबल से पूछा – “क्या तुम बता सकते हो कि जंग में जीत किसकी होगी?”

“हुजूर, इस सवाल का जवाब तो मैं जंग के मैदान में पहुंचकर ही दूंगा|” बीरबल ने कहा|

कुछ देर बाद फौज जंग के मैदान में पहुँच गई| वहां पहुंचकर बीरबल ने कहा – “हुजूर, अब मैं आपके सवाल का जवाब देता हूं और जवाब यह है कि जीत आपकी ही होगी|”

“यह तुम अभी से कैसे कह सकते हो, जबकि दुश्मन की फौज भी बहुत विशाल है|” बादशाह ने शंका जाहिर की|

“हुजूर, दुश्मन हाथी पर सवार हैं और हाथी तो सूंड से मिट्टी अपने ऊपर ही फेंकता है तथा अपनी ही मस्ती में रहता है, जबकि आप घोड़े पर सवार है और घोड़े को तो गाजी मर्द कहा जाता है| घोड़ा आपको कभी धोखा नहीं देगा|” बीरबल ने कहा|

उस जंग में जीत बादशाह अकबर की ही हुई|

🙏 धर्म और आध्यात्म को जन-जन तक पहुँचाने में हमारा साथ दें| 🙏