🙏 जीवन में कुछ पाना है तो झुकना होगा, कुएं में उतरने वाली बाल्टी झुकती है, तब ही पानी लेकर आती है| 🙏
Homeभजन संग्रहश्री साईं बाबा जी के भजनऐसी सुबह न आए न आए ऐसी श्याम

ऐसी सुबह न आए न आए ऐसी श्याम

भजन - श्री साईं बाबा जी - ऐसी सुबह न आए न आए ऐसी श्याम

ऐसी सुबह न आए न आए ऐसी श्याम
जिस दिन जुबान पे मेरी आए न साई का नाम

मन मन्दिर में वास है तेरा , तेरी छवि बसाई प्यासी आत्मा बनके जोगी तेरे शरण में आया
तेरे ही चरणों में पाया मैंने यह विश्राम ऐसी सुबह न आए न आए ऐसे श्याम
जिस दिन जुबान पे मेरी आए न तेरा नाम

तेरी खोज में न जाने कितने युग मेरे बीते अंत में काम क्रोध सब हरे वो बोले तुम जीते
मुक्त किया प्रभु तुने मुझको है शत शत प्रणाम ऐसी सुबह न आए न आए ऐसी श्याम
जिस दिन जुबान पे मेरी आए न तेरा नाम

सर्व्कला संपन तुम्ही ही हो औ मेरे परमेश्वर दर्शन देकर धन्य करो अब त्रिलोक्येश्वर
भवसागर से पार हो जायु लेकर तेरा नाम ऐसी सुबह न आए न आए ऐसे श्याम
जिस दिन जुबान पर मेरी आए न तेरा नाम……साई राम

 

Spiritual & Religious Store – Buy Online

Click the button below to view and buy over 700,000 exciting ‘Spiritual & Religious’ products

700,000+ Products

 

NO COMMENTS

LEAVE A COMMENT

🙏 ♻ प्रयास करें कि जब हम आये थे उसकी तुलना में पृथ्वी को एक बेहतर स्थान के रूप में छोड़ कर जाएं। सागर में हर एक बूँद मायने रखती है। ♻ 🙏