🙏 जीवन में कुछ पाना है तो झुकना होगा, कुएं में उतरने वाली बाल्टी झुकती है, तब ही पानी लेकर आती है| 🙏

नाम-सिमरण का उपदेश – साखी श्री गुरु अमर दास जी

नाम-सिमरण का उपदेश

डल्ला गांव के कुछ सिक्ख गुरु जी के पास आए| उनमें से उगरसैन, दीपा व रामू गौरी गुरु जी के पास आकर बैठ गए|

नाम-सिमरण का उपदेश सुनने के लिए Play Button क्लिक करें | Listen Audio

उन्होंने गुरु जी से प्रार्थना की कि आप हमें अपना उपदेश देकर कृतार्थ करें| गुरु जी हंसकर बोले कि आप नित्य प्रति उठकर स्नान  करे| गुरु की वाणी को प्रेम-पूर्वक व श्रद्धा सहित सुनना व पढ़ना एक सिक्ख के लिए अति जरूरी है| अपनी लिव परमात्मा से जोड़े| दिन में चार घड़ियों के लिए अपने मन को परमात्मा के स्मरण में जोड़े| तुम्हारे सारे कारज रास होंगे| कभी किसी चीज की कमी नहीं रहेगी| लोक व परलोक में गुरु जी सहाई होंगे| प्रभु की दरगाह में आपको सम्मान होगा| गुरु जी के ऐसे बचन सुनकर सिक्ख गद-गद हो उठे|

Khalsa Store

Click the button below to view and buy over 4000 exciting ‘KHALSA’ products

4000+ Products

 

NO COMMENTS

LEAVE A COMMENT

🙏 ♻ प्रयास करें कि जब हम आये थे उसकी तुलना में पृथ्वी को एक बेहतर स्थान के रूप में छोड़ कर जाएं। सागर में हर एक बूँद मायने रखती है। ♻ 🙏