🙏 सतनाम वाहे गुरु, गुरु पर्व की असीमित शुभकामनाएं... आप सभी पर वाहे गुरु की मेहर हो! 23 Nov 2018 🙏
Homeमंत्र संग्रहरोग शांति के लिए मन्त्र व विधि

रोग शांति के लिए मन्त्र व विधि

मंत्र क्या है? - What is mantra?

रोग शांति के लिए मन्त्र व विधि इस प्रकार है|

पर्वत ऊपर पर्वत|
पर्वत ऊपर स्फटिक शिला|
स्फटिक शिला पर अंजनी|
जिन जाया हनुमन्त|
नेहला टेहला कांख की कखराई|
पीछे की आदटी|
कान की कनफेट राल की|
बद कण्ठ की कंठमाला|
घुटने का डहरू|
दाढ़ की डढ़शूल|
पेट की ताप, तिल्ली किया|
इतने को दूर करें|
भस्मंत न करें|
तो तुझे माता अंजनी का दूध|
पिया हराम|
मेरी भक्ति|
गुरु की शक्ति|
फुरो मन्त्र|
ईश्वरो वाचा|
सत्य नाम आदेश गुरु का||

रोग शांति के लिए मन्त्र की विधि इस प्रकार है|

इस मन्त्र का जाप करते हुए झाड़ा करने से कहे गए समस्त रोग दूर होते हैं|

Spiritual & Religious Store – Buy Online

Click the button below to view and buy over 700,000 exciting ‘Spiritual & Religious’ products

700,000+ Products
Munish Ahuja Founder SpiritualWorld.co.in

Munish Ahuja Founder SpiritualWorld.co.in

नम्र निवेदन: वेबसाइट को और बेहतर बनाने हेतु अपने कीमती सुझाव कॉमेंट बॉक्स में लिखें, यह आपको अच्छा लगा हो तो अपनें मित्रों के साथ अवश्य शेयर करें। धन्यवाद।
NO COMMENTS

LEAVE A COMMENT

🙏 सतनाम वाहे गुरु, गुरु पर्व की असीमित शुभकामनाएं... आप सभी पर वाहे गुरु की मेहर हो! 23 Nov 2018 🙏