🙏 सतनाम वाहे गुरु, गुरु पर्व की असीमित शुभकामनाएं... आप सभी पर वाहे गुरु की मेहर हो! 23 Nov 2018 🙏
Homeशिक्षाप्रद कथाएँसूर्य और हवा – शिक्षाप्रद कथा

सूर्य और हवा – शिक्षाप्रद कथा

सूर्य और हवा - शिक्षाप्रद कथा

एक समय की बात है, सूर्य और हवा में यह बहस छिड़ गई कि उन दोनों में कौन अधिक शक्तिशाली है| हवा ने सूर्य से कहा – “मैं तुमसे अधिक शक्तिशाली हूं|”

“नहीं तुम मुझसे अधिक शक्तिशाली नहीं हो|” सूर्य ने कहा|

इस प्रकार वे दोनों एक दूसरे से लगभग छः हफ्तों तक बहस करते रहे|

मगर मामला था कि उलझता ही जा रहा था|

अंत में हवा ने कहा – “चलो, देखते हैं कि हम दोनों में कौन सबसे अधिक शक्तिशाली है|”

“ठीक है, मैं भी राजी हूं|” सूर्य ने कहा|

तभी अचानक उन्होंने देखा कि सामने से एक यात्री आ रहा था| उसे देखकर हवा को अपनी शक्ति का प्रदर्शन करने की एक युक्ति सूझ गई|

उसने सूर्य से कहा – “देखो, वह यात्री आ रहा है, हममें से जो भी उसे अपना कोट उतारने पर विवश कर देगा, वही शक्तिशाली समझा जाएगा| सबसे पहले मैं प्रयत्न करूंगी| तब तक तुम बादलों की ओट में छिप जाओ|”

सूर्य के बादलों में छिपते ही हवा बहुत जोर से चलने लगी|

मगर हवा में जितनी अधिक तेजी आती, यात्री उतनी ही मजबूती से अपना कोट अपने शरीर के इर्द-गिर्द लपेट लेता, ताकि वह ठंड से बचा रहे|

हवा बहुत देर तक बहुत तेजी से चलती रही और अंत में थक कर शांत हो गई| वह उस यात्री का कोट उतरवाने में किसी भी प्रकार सफल न हो सकी|

उसे हार-थककर शांत होते देख सूर्य ने कहा – “अब मेरी बारी है|”

तब हवा एकदम बंद हो गई और सूर्य बादलों से बाहर निकलकर तेजी से चमकने लगा|

‘ओह! कितनी गरमी हो गई है| ‘यात्री ने कहा – ‘कोट तो उतारना ही पड़ेगा|’

यात्री ने इस प्रकार गरमी से परेशान होकर कोट उतार फेंका| यह देख हवा ने खामोशी से अपनी पराजय स्वीकार कर ली और सूर्य को नमस्कार करके आगे बढ़ गई|

शिक्षा: अपनी ताकत और योग्यता पर कभी घमंड न करो|

Spiritual & Religious Store – Buy Online

Click the button below to view and buy over 700,000 exciting ‘Spiritual & Religious’ products

700,000+ Products
Munish Ahuja Founder SpiritualWorld.co.in

Munish Ahuja Founder SpiritualWorld.co.in

नम्र निवेदन: वेबसाइट को और बेहतर बनाने हेतु अपने कीमती सुझाव कॉमेंट बॉक्स में लिखें, यह आपको अच्छा लगा हो तो अपनें मित्रों के साथ अवश्य शेयर करें। धन्यवाद।
NO COMMENTS

LEAVE A COMMENT

🙏 सतनाम वाहे गुरु, गुरु पर्व की असीमित शुभकामनाएं... आप सभी पर वाहे गुरु की मेहर हो! 23 Nov 2018 🙏