🙏 ♻ प्रयास करें कि जब हम आये थे उसकी तुलना में पृथ्वी को एक बेहतर स्थान के रूप में छोड़ कर जाएं। सागर में हर एक बूँद मायने रखती है। ♻ 🙏
Homeशिक्षाप्रद कथाएँसब बह जाएंगे (बादशाह अकबर और बीरबल)

सब बह जाएंगे (बादशाह अकबर और बीरबल)

बादशाह अकबर और बीरबल शिकार पर गए हुए थे| उनके साथ कुछ सैनिक तथा सेवक भी थे| शिकार से लौटते समय एक गांव से गुजरते हुए बादशाह अकबर को उस गांव के बारे में जानने की जिज्ञासा हुई| उन्होंने इस बारे में बीरबल से कहा तो उसने जवाब दिया – “हुजूर, मैं तो इस गांव के बारे में कुछ नहीं जानता, किंतु इसी गांव के किसी बाशिन्दे से पूछकर बताता हूं|”

“सब बह जाएंगे” सुनने के लिए Play Button क्लिक करें | Listen Audio

बीरबल ने एक आदमी को बुलाकर पूछा – “क्यों भई, इस गांव में सब ठीकठाक तो है न?”

उस आदमी ने बादशाह को पहचान लिया और बोला – “हुजूर, आपके राज में कोई कमी कैसे हो सकती है|”

“तुम्हारा नाम क्या है?” बादशाह ने पूछा|

“गंगा|

“तुम्हारे पिता का नाम?”

“जमुना और मां का नाम सरस्वती है|”

“इस गांव का क्या नाम है?”

“हुजूर, नर्मदा|”

यह सुनकर बीरबल ने चुटकी ली और बोला – “हुजूर, तुरन्त पीछे हट जाइए| यदि आपके पास नाव हो तभी आगे बढ़ें वरना नदियों के इस गांव में तो डूब जाने का खतरा है|”

यह सुनकर बादशाह अकबर हंसे बगैर नहीं रह सके|

Munish Ahuja Founder SpiritualWorld.co.in

Munish Ahuja Founder SpiritualWorld.co.in

नम्र निवेदन: वेबसाइट को और बेहतर बनाने हेतु अपने कीमती सुझाव कॉमेंट बॉक्स में लिखें, यह आपको अच्छा लगा हो तो अपनें मित्रों के साथ अवश्य शेयर करें। धन्यवाद।
NO COMMENTS

LEAVE A COMMENT

🙏 ♻ प्रयास करें कि जब हम आये थे उसकी तुलना में पृथ्वी को एक बेहतर स्थान के रूप में छोड़ कर जाएं। सागर में हर एक बूँद मायने रखती है। ♻ 🙏