🙏 जीवन में कुछ पाना है तो झुकना होगा, कुएं में उतरने वाली बाल्टी झुकती है, तब ही पानी लेकर आती है| 🙏

घर का झगड़ा

घर का झगड़ा

एक दिन एक खरगोश अपना घर छोड़कर निकट के खेत में भोजन के लिए गया| इसी बीच एक नेवले ने उसके घर में घुसकर अपना अधिकार जमा लिया| जब खरगोश लौटा, तब घर में नेवले को पाया|

“घर का झगड़ा” सुनने के लिए Play Button क्लिक करें | Listen Audio

उसने नेवले से घर खली कर देने के लिए कहा| मगर नेवले ने इनकार कर दिया और बोला, “मेरे आने के समय इस घर का कोई अधिकारी नहीं था| अब यह मेरे कब्जे में है| तुम अपने लिए दूसरा घर बना लो|”

खरगोश का कहना था कि यह घर उसका है, उसे मिलाना चाहिए |इस पर खरगोश और नेवले में झगड़ा हो गया| नेवला बोला, “तुम चाहो, बाहर खड़े रहो पर, यह घर नहीं मिलेगा|”

तभी उधर से एक बिल्ली गुजरी| खरगोश ने बिल्ली से न्याय कराने की बात कही| नेवला तैयार हो गया| दोनों बिल्ली के पास गये| बिल्ली ने न सुनने का बहाना बनाकर उन्हें पास बुलाया| गुस्से में खरगोश और नेवला भूल गये कि बिल्ली कितनी खतरनाक है| वे बिल्ली के निकट चले गये| बिल्ली ने दोनों को मार दिया| उनकी मृत्यु के साथ घर का झगड़ा भी खत्म हो गया|

NO COMMENTS

LEAVE A COMMENT

🙏 ♻ प्रयास करें कि जब हम आये थे उसकी तुलना में पृथ्वी को एक बेहतर स्थान के रूप में छोड़ कर जाएं। सागर में हर एक बूँद मायने रखती है। ♻ 🙏