🙏 सतनाम वाहे गुरु, गुरु पर्व की असीमित शुभकामनाएं... आप सभी पर वाहे गुरु की मेहर हो! 23 Nov 2018 🙏
Homeशिक्षाप्रद कथाएँजैसी मां वैसी संतान – शिक्षाप्रद कथा

जैसी मां वैसी संतान – शिक्षाप्रद कथा

जैसी मां वैसी संतान - शिक्षाप्रद कथा

एक मादा केकड़े ने अपने बेटे को तिरछा चलता देखकर कहा – “बेटे! तुम इस प्रकार तिरछे चलते समय बिलकुल मुर्ख नजर आते हो| अरे अपनी सीध में क्यों नहीं चलते?”

“मां!” केकड़े का बच्चा बोला – “कैसे चलूं? तुम पहले अपनी सीध में चल कर तो दिखाओ| जैसे तुम चलोगी, मैं भी वैसा ही करूंगा| मुझसे कहने से पहले तुम्हें खुद उस चाल का उदाहरण देना चाहिए|”

शिक्षा: दूसरों की कमियां देखने से पहले अपने आपको देखो|

 

Spiritual & Religious Store – Buy Online

Click the button below to view and buy over 700,000 exciting ‘Spiritual & Religious’ products

700,000+ Products
Munish Ahuja Founder SpiritualWorld.co.in

Munish Ahuja Founder SpiritualWorld.co.in

नम्र निवेदन: वेबसाइट को और बेहतर बनाने हेतु अपने कीमती सुझाव कॉमेंट बॉक्स में लिखें, यह आपको अच्छा लगा हो तो अपनें मित्रों के साथ अवश्य शेयर करें। धन्यवाद।
NO COMMENTS

LEAVE A COMMENT

🙏 सतनाम वाहे गुरु, गुरु पर्व की असीमित शुभकामनाएं... आप सभी पर वाहे गुरु की मेहर हो! 23 Nov 2018 🙏