🙏 सतनाम वाहे गुरु, गुरु पर्व की असीमित शुभकामनाएं... आप सभी पर वाहे गुरु की मेहर हो! 23 Nov 2018 🙏
Homeशिक्षाप्रद कथाएँबुद्धिमान बच्चा – शिक्षाप्रद कथा

बुद्धिमान बच्चा – शिक्षाप्रद कथा

बुद्धिमान बच्चा - शिक्षाप्रद कथा

एक बार एक बकरा-बकरी जब चरने के लिए जाने लगे तो बकरे ने अपने बच्चों से कहा कि जब वह शाम को वापस आएं और जब मैं ऐसे कहूं – “बोनी, टोनी, पिंकी, मिंकी! दरवाजा खोलो| मैं तुम्हारे लिए भोजन लाया हूं| तभी दरवाजा खोलना|” यह कहकर वह किसी हरे-भरे जंगल में चले गए|

एक भेड़िया वहीं कहीं पास ही छुपा हुआ सारी बातें सुन रहा था| वह तुरंत दरवाजे पर गया और बकरे की आवाज की नकल करता हुआ बोला – “बोनी, टोनी, पिंकी, मिंकी! दरवाजा खोलो – मैं तुम्हारे लिया भोजन लाया हूं|”

एक बच्चे को भेड़िए की खरखराती आवाज सुनकर शक हो गया| उसने खिड़की से झांककर देखा| बाहर भेड़िया खड़ा था| उसने भेड़िए से कहा – “काफी, अच्छी नकल उतारी है तुमने हमारे पिता की! मगर तुम दाढ़ी लगाना भूल गए| तुम्हें मालूम नहीं कि बकरे की दाढ़ी भी होती है| अगली बार दाढ़ी लगाकर आना| मैं दरवाजा खोल दूंगा|”

जब भेड़िए को अपनी गलती का एहसास हुआ तो वह चुपचाप वहां से चला गया|

शिक्षा: नकल के लिए अक्ल का इस्तेमाल करो|

Spiritual & Religious Store – Buy Online

Click the button below to view and buy over 700,000 exciting ‘Spiritual & Religious’ products

700,000+ Products
Munish Ahuja Founder SpiritualWorld.co.in

Munish Ahuja Founder SpiritualWorld.co.in

नम्र निवेदन: वेबसाइट को और बेहतर बनाने हेतु अपने कीमती सुझाव कॉमेंट बॉक्स में लिखें, यह आपको अच्छा लगा हो तो अपनें मित्रों के साथ अवश्य शेयर करें। धन्यवाद।
NO COMMENTS

LEAVE A COMMENT

🙏 सतनाम वाहे गुरु, गुरु पर्व की असीमित शुभकामनाएं... आप सभी पर वाहे गुरु की मेहर हो! 23 Nov 2018 🙏