🙏 जीवन में कुछ पाना है तो झुकना होगा, कुएं में उतरने वाली बाल्टी झुकती है, तब ही पानी लेकर आती है| 🙏
Homeभक्त व संतहम मतवाले हैं चले साँई के देस

हम मतवाले हैं चले साँई के देस

हम मतवाले हैं चले साँई के देस

हम मतवाले हैं चले साँई के देस – 2
जहाँ सभी को चैन मिलेगा कभी न लागे ठेस
हम मतवाले हैं चले साँई के देस

फूल सी धरती बनती जाए एक पिघलता लावा
पहन रही है पगली दुनिया अग्नि का पहरावा
जाने अभी ये बन्दे तेरे बदलें कितने भेस
हम मतवाले……………

देखो अपनी हर मुश्किल है आज समस्या उसकी
चलो चलें चरणों में सोकर करें तपस्या उसकी
किस सपने में कब मिल जाए प्रेम भरा संदेस
हम मतवाले………………

हमें न है कुछ फ़िक्र आजकी न अँदेसा कलका
मनका -मनका जपते कर लिया मनका बोझा हलका
दो दिन की बहरूपी दुनिया असल में है परदेस

हम मतवाले हैं चले साँई के देस
हम मतवाले………………

FOLLOW US ON:
NO COMMENTS

LEAVE A COMMENT

🙏 ♻ प्रयास करें कि जब हम आये थे उसकी तुलना में पृथ्वी को एक बेहतर स्थान के रूप में छोड़ कर जाएं। सागर में हर एक बूँद मायने रखती है। ♻ 🙏