Homeभजन संग्रहश्री गौरी अम्बे माँ के भजनमत्थे रोलियां, गला दे विच अट्टे

मत्थे रोलियां, गला दे विच अट्टे

भजन संग्रह - श्री गौरी अम्बे माँ के भजन - मत्थे रोलियां, गला दे विच अट्टे

मत्थे रोलियां, गला दे विच अट्टे
मारे मेहर दे जिनां नूं माई छिट्टे
ओ बचड़े निहाल हो गए

आइयां जिनां नूं पवन उत्तो चिट्ठियां
पाइयां उनां ने मुरादां मुट्ठियां
ओ लाल, लालो लाल हो गए
तेरे बचड़े निहाल हो गए..

चित्त कलियां तो कोमल तेरा
मन मोह ममता दा डेरा
अक्खां दो अमृत दे सागर
तू नूर है नूरी सवेरा
तेरे दर ते मां शेरां वाली
लें के आए जो सवाल सवाली
हो पूरे ओ सवाल हो गए
तेरे बचड़े निहाल हो गए..

तेरी करनी दे कौतुक हजारां
किवें भेंटा दे विच में अंगारां
पत्थरा चों फुल पए उगदे
पतझड़ विच खिड़न बहारां
तैनूं परखया शहनशाह दे कहरां

सिर सुट्ट गइयां नहर दियां लहरां
हो जलबे कमाल हो गए
तेरे बचड़े निहाल हो गए..

नित मन वाला मनका फेरां
हजूं दीदयां तो दीद लई केरां
दिल वाले शीशे दे उत्ते
दाती पया जान तरेड़ा
तेरा दरस जिनां ने पाया
हे जग जननी महामाया
ओ बाल खुशहाल हो गए
तेरे बचड़े निहाल हो गए..

 

Spiritual & Religious Store – Buy Online

Click the button below to view and buy over 700,000 exciting ‘Spiritual & Religious’ products

700,000+ Products

 

दाती दे
मन उपवन
🙏 धर्म और आध्यात्म को जन-जन तक पहुँचाने में हमारा साथ दें| 🙏