🙏 जीवन में कुछ पाना है तो झुकना होगा, कुएं में उतरने वाली बाल्टी झुकती है, तब ही पानी लेकर आती है| 🙏

Homeआध्यात्मिक न्यूज़गणतंत्र दिवस परेड में सी.एम.एस. को सर्वाधिक सात पुरस्कार ‘प्रथम स्थान’ पर रही सी.एम.एस. झाँकी

गणतंत्र दिवस परेड में सी.एम.एस. को सर्वाधिक सात पुरस्कार ‘प्रथम स्थान’ पर रही सी.एम.एस. झाँकी

गणतंत्र दिवस परेड में सी.एम.एस. को सर्वाधिक सात पुरस्कार ‘प्रथम स्थान’ पर रही सी.एम.एस. झाँकी

लखनऊ, 28 जनवरी। सिटी मोन्टेसरी स्कूल की अनूठी झाँकी ‘ऐसा मस्तिष्क बनाओ, जैसा था बापू का’ ने इस वर्ष गणतन्त्र दिवस परेड में प्रथम स्थान अर्जित किया है।

इसके अलावा, सी.एम.एस. छात्रों ने गणतन्त्र दिवस परेड के विभिन्न कार्यक्रमों 6 पुरस्कार अर्जित कर अपनी मेधा व प्रतिभा का परचम लहराया है, साथ ही युवा पीढ़ी में देशभक्ति व देशप्रेम का अलख जगाया है। सी.एम.एस. महानगर कैम्पस के छात्रों ने नृत्य प्रस्तुति ‘गंगा अब कुछ माँग रही है’ में प्रथम पुरस्कार अर्जित किया तो वहीं दूसरी ओर सी.एम.एस. राजेन्द्र नगर (प्रथम कैम्पस) के छात्रों ने ‘तिरंगा हमारी शान’ ड्रिल एवं सी.एम.एस. कानपुर रोड कैम्पस के छात्रों ने ‘बैग/पाइप बैण्ड’ प्रस्तुति में द्वितीय पुरस्कार अर्जित किया है। इसके अलावा, सी.एम.एस. अलीगंज (प्रथम कैम्पस) ने बालकों की परेड जबकि सी.एम.एस. गोमती नगर (प्रथम कैम्पस) ने बालिकाओं की परेड एवं पाइप बैण्ड की प्रस्तुति में तृतीय पुरस्कार अर्जित किया है।

गणतंत्र दिवस परेड में सी.एम.एस. को सर्वाधिक सात पुरस्कार ‘प्रथम स्थान’ पर रही सी.एम.एस. झाँकी

सी.एम.एस. के मुख्य जन-सम्पर्क अधिकारी श्री हरि ओम शर्मा ने बताया कि सी.एम.एस. की प्रथम पुरष्कृत झाँकी गणतन्त्र दिवस परेड के उपरान्त इन दिनों सी.एम.एस. कानपुर रोड कैम्पस के प्रांगण में सभी के शिक्षा ग्रहण हेतु रखी गई है, जहाँ 28 जनवरी से 2 फरवरी तक झाँकी मेला चल रहा है। इस शिक्षात्मक झाँकी मेले में

सी.एम.एस. के 56000 छात्र प्रतिभाग करेंगे। सी.एम.एस. के सभी छात्र बसों द्वारा इस झाँकी से शिक्षा ग्रहण करने हेतु क्रमानुसार आयेंगे। श्री शर्मा ने बताया कि सी.एम.एस. का लक्ष्य प्रत्येक छात्र का नैतिक, चारित्रिक व आध्यात्मिक उत्थान कर उन्हें समाज का आदर्श नागरिक बनाना है एवं यह झाँकी दर्शन भी इसी प्रयास की एक कड़ी है। अधिकांश नन्हें-मुन्हें बच्चे गणतन्त्र दिवस परेड में झाँकी को नहीं देख पाते हैं उनके लिए यह एक अभूतपूर्व अवसर है कि झाँकी को नजदीक से देखकर इसके विचारों को ग्रहण करें व प्रेम, प्यार, सहयोग व सहकार की भावना का विकास कर विश्व में एकता, शान्ति व खुशहाली के लिए समर्पित हों।

गणतंत्र दिवस परेड में सी.एम.एस. को सर्वाधिक सात पुरस्कार ‘प्रथम स्थान’ पर रही सी.एम.एस. झाँकी

श्री शर्मा ने बताया कि ‘झाँकी मेले’ में आज सी.एम.एस. अलीगंज व राजाजीपुरम कैम्पस के हजारों छात्रों ने  सी.एम.एस. की प्रेरणादायी झाँकी को नजदीक से देखा एवं राष्ट्रपिता महात्मा गाँधी के जीवन दर्शन, उनकी शिक्षाओं व विचारों से रूबरू हुए। इस अवसर पर सी.एम.एस. संस्थापक व प्रख्यात शिक्षाविद् डा. जगदीश गाँधी ने झाँकी के विभिन्न पहलुओं, इसकी विशेषताओं व इसके समाहित विचारों से छात्रों को अवगत कराते हुए कहा कि सी.एम.एस. की यह झाँकी भारत के साथ ही विश्व के सभी बच्चों को बचपन से ही महात्मा गाँधी के महान विचारों एवं आदर्शों पर चलकर सारे विश्व में एकता व शान्ति स्थापना के लिए प्रेरित कर रही है। राष्ट्रपिता महात्मा गाँधी के बताये रास्ते पर चलकर ही विश्व समाज में अमन-चैन का वातावरण स्थापित किया जा सकता है।

श्री शर्मा ने सभी लखनऊवासियों एवं सभी स्कूलों से अपील की है कि वे सी.एम.एस. कानपुर रोड पधारकर इस झाँकी को निकट से देखें, इसकी विशेषताओं को समझें तथा बच्चों को भी समझाएं, जिससे छात्रों का सर्वांगीण विकास हो सके।

गणतंत्र दिवस परेड में सी.एम.एस. को सर्वाधिक सात पुरस्कार ‘प्रथम स्थान’ पर रही सी.एम.एस. झाँकी

(हरि ओम शर्मा)
मुख्य जन-सम्पर्क अधिकारी
सिटी मोन्टेसरी स्कूल, लखनऊ

FOLLOW US ON:
आज के दौ
NO COMMENTS

LEAVE A COMMENT

🙏 ♻ प्रयास करें कि जब हम आये थे उसकी तुलना में पृथ्वी को एक बेहतर स्थान के रूप में छोड़ कर जाएं। सागर में हर एक बूँद मायने रखती है। ♻ 🙏