🙏 धर्म और आध्यात्म को जन-जन तक पहुँचाने में हमारा साथ दें| 🙏
Homeआध्यात्मिक न्यूज़अन्तर्राष्ट्रीय युवा कामर्स एवं इकोनाॅमिक्स सम्मेलन का सी.एम.एस. में भव्य उद्घाटन

अन्तर्राष्ट्रीय युवा कामर्स एवं इकोनाॅमिक्स सम्मेलन का सी.एम.एस. में भव्य उद्घाटन

अन्तर्राष्ट्रीय युवा कामर्स एवं इकोनाॅमिक्स सम्मेलन का सी.एम.एस. में भव्य उद्घाटन

लखनऊ, 1 नवम्बर। सिटी मोन्टेसरी स्कूल, स्टेशन रोड कैम्पस द्वारा आयोजित चार दिवसीय अन्तर्राष्ट्रीय युवा कामर्स एवं इकोनाॅमिक्स सम्मेलन (आई.वाई.सी.सी.ई.-2019) का उद्घाटन आज सायं मुख्य अतिथि श्री सुरेश खन्ना, वित्त मंत्री, उ.प्र., ने सी.एम.एस. कानपुर रोड आॅडिटोरियम में दीप प्रज्वलित कर किया। इस अवसर पर अपने सम्बोधन में श्री खन्ना ने कहा कि कामर्स एवं इकोनाॅमिक्स का ज्ञान वर्तमान समय में बहुत सामयिक है क्योंकि आर्थिक समानता का लक्ष्य प्राप्त करने में युवा पीढ़ी की भागीदारी एवं जागरूकता अत्यन्त महत्वपूर्ण है एवं यही भावना एकता व शान्ति के पथ पर अग्रसर करती है। उन्होंने छात्रों का आह्वान किया वे अपनी प्रतिभा का उपयोग मानव जाति की सेवा एवं विश्व शान्ति के लिए करें। विदित हो कि आई.वाई.सी.सी.ई.-2019 का आयोजन 1 से 4 नवम्बर तक सी.एम.एस. कानपुर रोड आॅडिटोरियम में किया जा रहा है, जिसमें श्रीलंका, यू.ए.ई. एवं भारत के विभिन्न प्रान्तों से पधारे लगभग 500 छात्र प्रतिभाग कर रहे हैं।

इससे पहले, रंगारंग शिक्षात्मक-साँस्कृतिक कार्यक्रमों की इन्द्रधनुषी छटा के बीच श्रीलंका, यू.ए.ई. एवं भारत के विभिन्न प्रान्तों से पधारे प्रतिभागी छात्रों व टीम लीडरों की उपस्थिति ने वसुधैव कुटुम्बकम का अनूठा दृश्य उपस्थित किया तथापि भारतीय लोक गीतों का आलोक बिखरते शिक्षात्मक एवं प्रेरणादायी सांस्कृतिक कार्यक्रमों ने दर्शकों का मन मोह लिया। समारोह का शुभारम्भ सर्व-धर्म तथा विश्व शांति प्रार्थना से हुआ। इस अवसर पर सी.एम.एस. छात्रों ने वल्र्ड पार्लियामेन्ट की अनूठी प्रस्तुति से सभी को मंत्रमुग्ध कर दिया, जिसके माध्यम से छात्रों ने विश्व की ज्वलन्त समस्याओं पर गहन विचार-विमर्श किया।

‘आई.वाई.सी.सी.ई.-2019’ में प्रतिभाग हेतु देश-विदेश से पधारे छात्र आज अपरान्हः सत्र में आयोजित एक प्रेस कान्फ्रेन्स में पत्रकारों से मिले और दिल खोलकर अपने विचार रखे। प्रेस कान्फ्रेन्स में पत्रकारों से बातचीत करते हुए आनन्दा कालेज, कोलम्बो, श्रीलंका से पधारे छात्रों ने कहा कि यह सम्मेलन हम सभी छात्रों के लिए अपनी प्रतिभा को प्रदर्शित करने को बेहतरीन अवसर है। आधुनिक युग उद्योग प्रधान युग है एवं इस सम्मेलन के माध्यम से हम कामर्स एवं इकोनाॅमिक्स की जानकारी बढ़ायेंगे। जेम्स आॅर ओन इण्डियन स्कूल, दुबई, यू.ए.ई., से पधारे छात्रों ने कहा कि वाणिज्य एवं अर्थशास्त्र अभी तक बड़े लोगों का विषय माना जाता है परन्तु इस सम्मेलन ने छात्रों को भी इस विषय में अपनी जानकारियों को बढ़ाने का अवसर प्रदान किया है। इसी प्रकार देश के विभिन्न प्रान्तों से पधारे प्रतिभागी छात्रों ने भी दिल खोलकर अपने विचार व्यक्त किये और कहा कि इस सम्मेलन से कैरियर निर्माण में उन्हें उचित मार्गदर्शन मिलेगा। छात्रों की आमराय थी कि हम ग्लोबल अर्थव्यवस्था को समझें एवं पूरे विश्व के कल्याण के लिए इसका उपयोग करें।

आई.वाई.सी.सी.ई.-2019 की संयोजिका एवं सी.एम.एस. स्टेशन रोड कैम्पस की प्रधानाचार्या श्रीमती वीरा हजेला ने पत्रकारों को बताया कि इस सम्मेलन को आयोजित करने का उद्देश्य कामर्स एवं इकोनाॅमिक्स के क्षेत्र में देश-विदेश के छात्रों को नये विचारों एवं ज्ञान से परिपूर्ण करने के साथ ही उनमें नेतृत्व एवं प्रबन्धन की क्षमता विकसित करना है। यह सम्मेलन भावी पीढ़ी को 21वीं सदी के नये वैश्विक अर्थशाष्त्र के परिपे्रक्ष्य में उत्पन्न आर्थिक, सामाजिक, शैक्षिक एवं राजनीतिक परिदृश्य की चुनौतियाँ को समझने में मदद करेगा साथ ही प्रतिभागी छात्रों को एक अन्तर्राष्ट्रीय मंच पर अपना कौशल दिखाने का भरपूर अवसर प्राप्त होगा।

श्रीमती हजेला ने बताया कि इस सम्मेलन के अन्तर्गत बिज-क्विज (बिजनेस क्विज), बुल वर्सेज बियर (वाद-विवाद), बी-प्लान (सृजनात्मक विचार), फिनटून्स (फाइनेन्शियल कार्टून), काॅम डाट नेट (कामर्स ज्ञान), कार्पोरेट कान्शन्स (सामाजिक जागरूकता), साई-टूल्स (साइंटफिक माडल), साउण्ड आॅफ साइलेन्स (कोरियोग्राफी), इन्टरप्रिन्योर एक्सप्रेशन्स (भाषण) एवं एड-वेन्चर (इण्डस्ट्री प्रजेन्टेशन) आदि प्रतियोगितायें आयोजित की जायेंगी। प्रतियोगिताओं के अलावा प्रबुद्ध हस्तियों के सारगर्भित अभिभाषण भी इस सम्मेलन का प्रमुख आकर्षण होगा, जिसके माध्यम से देश-विदेश के छात्र मार्गदर्शन प्राप्त कर सकेंगे। इसके अलावा विभिन्न मैनेजमेन्ट एक्सपर्ट एवं एन.जी.ओ. के प्रमुख भी सम्मेलन में पधारकर इसकी गरिमा को बढ़ायेंगे एवं छात्रों का मार्गदर्शन करेंगे।

सी.एम.एस. संस्थापक व प्रख्यात शिक्षाविद् डा. जगदीश गाँधी ने कहा कि सुख, शान्ति,खुशहाल समाज के लिए अर्थशाष्त्र का अपना एक अलग महत्व है जिसे गहराई से जानना एवं समझना युवा पीढ़ी के अपरिहार्य है। उन्होंने विश्वास व्यक्त किया कि इस अन्तर्राष्ट्रीय सम्मेलन युवा पीढ़ी को न सिर्फ वाणिज्य एवं अर्थशाष्त्र के विभिन्न पहुलओं से अवगत करायेगा अपितु यह विभिन्न संस्कृतियों का समागम स्थल भी साबित होगा।

सी.एम.एस. के मुख्य जन-सम्पर्क अधिकारी श्री हरि ओम शर्मा ने बताया कि आई.वाई.सी.सी.ई.-2019 के अन्तर्गत प्रतियोगिताओं का दौर कल 2 नवम्बर को प्रातः 10.30 बजे से प्रारम्भ होगा जो कि 4 नवम्बर को भव्य पुरस्कार वितरण समारोह के साथ सम्पन्न होगा। कल, 2 नवम्बर को आयोजित होने वाली प्रतियोगिताओं में बुल वर्सेज बिअर (वाद-विवाद), फिनटून्स (फाइनेन्शियल कार्टून), बिज-क्विज (बिजनेस क्विज), काॅम डाट नेट (कामर्स ज्ञान), साई-टूल्स (साइंटफिक माडल) आदि प्रमुख हैं। इसके अलावा प्रबुद्ध हस्तियों के सारगर्भित अभिभाषण होंगे। इसके अलावा, सी.एम.एस. गोमती नगर (द्वितीय कैम्पस) आॅडिटोरियम में ‘साँस्कृतिक संध्या’ का आयोजन किया गया है, जहाँ देश-विदेश से पधारे प्रतिभागी छात्र शिक्षात्मक-साँस्कृतिक कार्यक्रमों की इन्द्रधनुषी छटा प्रस्तुत करेंगे।

(हरि ओम शर्मा)
मुख्य जन-सम्पर्क अधिकारी
सिटी मोन्टेसरी स्कूल, लखनऊ

FOLLOW US ON:
सी.एम.एस
🙏 धर्म और आध्यात्म को जन-जन तक पहुँचाने में हमारा साथ दें| 🙏