🙏 जीवन में कुछ पाना है तो झुकना होगा, कुएं में उतरने वाली बाल्टी झुकती है, तब ही पानी लेकर आती है| 🙏

सज्जन ठग को तारना – साखी श्री गुरु नानक देव जी

सज्जन ठग को तारना

श्री गुरु नानक देव जी माता-पिता व राए बुलार आदि को मिलकर कुछ दिनों पश्चात् बोले-मरदाने को साथ लेकर मुलतान की ओर चल दिए|

“सज्जन ठग को तारना – साखी श्री गुरु नानक देव जी” सुनने के लिए Play Button क्लिक करें | Listen Audio

रास्ते में ही आपको पता लगा कि तुलभा नगर (जिला मुलतान) में एक सज्जन नाम का ठग रहता है जो यात्रियों को लुट लेता है| रात के समय विश्राम और रोटी-पानी  की सेवा के बहाने घर लेकर आता है| उसका यह बुरा कर्म सुनकर गुरु जी उसी रास्ते की ओर चल दिए|

उसे बुरे कार्यों से हटाने के लिए गुरु जी ने शब्द का भी उच्चारण किया| सज्जन ठग ने उस शब्द का भावार्थ समझा व गुरु जी के चरणों पर गिर पड़ा| उसने ठगने का कार्य त्याग दिया व गुरु जी का शिष्य बन गया| गुरु जी ने यहां सत्संग करने के लिए धर्मशाला बनवाने, ईमानदारी की कमाई करनी व सत्संग करने की प्रेरणा दी|

श्री गुरु नानक देव जी – जीवन परिचय

 

श्री गुरु नानक देव जी – ज्योति ज्योत समाना

Khalsa Store

Click the button below to view and buy over 4000 exciting ‘KHALSA’ products

4000+ Products

 

NO COMMENTS

LEAVE A COMMENT

🙏 ♻ प्रयास करें कि जब हम आये थे उसकी तुलना में पृथ्वी को एक बेहतर स्थान के रूप में छोड़ कर जाएं। सागर में हर एक बूँद मायने रखती है। ♻ 🙏