Homeमंत्र संग्रहरक्षा के लिए मन्त्र व विधि

रक्षा के लिए मन्त्र व विधि

मंत्र क्या है? - What is mantra?

रक्षा के लिए मन्त्र व विधि इस प्रकार है|

फरीद चले परदेश को|
कुत्तक जी के भाव|
सांपा चोरां नांहरा|
तीनों दांत बंधान||

रक्षा के लिए मन्त्र की विधि इस प्रकार है|

इस मन्त्र को ग्रहण के समय जप कर अनुकूल कर लें| फिर यात्रा के समय इस मन्त्र को पढ़कर अपने ऊपर फूँकें और ताली बजायें|

Spiritual & Religious Store – Buy Online

Click the button below to view and buy over 700,000 exciting ‘Spiritual & Religious’ products

700,000+ Products
Rate This Article: