🙏 सतनाम वाहे गुरु, गुरु पर्व की असीमित शुभकामनाएं... आप सभी पर वाहे गुरु की मेहर हो! 23 Nov 2018 🙏
Homeघरेलू नुस्ख़ेखाद्य पदार्थों के स्वास्थ्य लाभलहसुन के 14 स्वास्थ्य लाभ – 14 Health Benefits of Garlic

लहसुन के 14 स्वास्थ्य लाभ – 14 Health Benefits of Garlic

लहसुन में कई छोटी-छोटी पुतियां होती हैं| इन पूतियों पर पतला खोल चढ़ा होता है| जब तक पूतियों पर यह खोल चढ़ा रहता है, तब तक यह खराब नहीं होतीं| लहसुन को अमृततुल्य बताया गया है क्योंकि इसमें काफी गुण होते हैं|

“लहसुन के 14 स्वास्थ्य लाभ” सुनने के लिए Play Button क्लिक करें | Health Benefits of Garlic Listen Audio

यह शरीर में गरमी को बनाए रखता है, इसीलिए इसका प्रयोग शीतकाल में अधिक किया जाता है| यह चेहरे पर चमक बढ़ाता है| इसको खाने से पेट के कीड़े मर जाते हैं| जो व्यक्ति नित्य इसका सेवन करते हैं, उनको शारीरिक व्याधियों से छुटकारा मिलता है| लहसुन उत्तेजक और चर्मदाहक होता है| यह अपना प्रभाव शरीर के सभी अंगों पर छोड़ता है| इसको खाने से शरीर में रक्त का शोधन होता है और चुस्ती-फुर्ती आती है|

लहसुन में  सल्लीसिननामक तत्त्व पाया जाता है जिसकी गंध से कीटाणु मर जाते हैं| यह धमनियों में खून जमने नहीं देता| कहा जाता है कि यदि लहसुन का प्रयोग नियमित रूप से किया जाए तो व्यक्ति को बुढ़ापा जल्दी नहीं आता| लहसुन की तासीर गरम होती है, परन्तु खाने के थोड़ी देर बाद इससे निकलने वाली गरमी अपने आप शान्त हो जाती है| यह बुद्धिदाता, वहम को दूर करने वाला तथा जीवन को प्राण-तत्त्व प्रदान करने वाला है| इसके प्रमुख औषधीय उपयोग हम यहां प्रस्तुत कर रहे हैं –

 

लहसुन के 14 औषधीय गुण इस प्रकार हैं:

1. पेट दर्द

लहसुन की एक पूती, दो चुटकी सोंठ, आधा चुटकी काला नमक और दो दाने हींग – सबको पीसकर सेवन करने से पेट दर्द रुक जाता है|


2. अजीर्ण

एक पूती लहसुन, दो दाने कालीमिर्च तथा दो चुटकी जीरा – सबकी चटनी बनाकर धीरे-धीरे खाने से अजीर्ण का रोग चला जाता है|


3. पेचिश (मरोड़)

दो पूती लहसुन, 3 ग्राम नीबू का रस, 5 ग्राम अदरक का रस, चार पत्तियां पुदीना, एक चुटकी काला नमक और दो कालीमिर्च – सबको पीसकर चार खुराक बनाएं| दिनभर में चार बार इसका सेवन करने से पेचिश दूर हो जाएगी|


4. संग्रहणी

एक चम्मच जीरा, दो पूती लहसुन तथा एक चुटकी काला नमक – तीनों को पीसकर मट्ठे के साथ सेवन करें| लगभग 8 दिनों तक यह नुस्खा प्रयोग करने से संग्रहणी समाप्त हो जाएगी|


5. गठिया

250 ग्राम दूध में लहसुन की दो पूतियां उबालकर कुछ दिनों तक सेवन करने से गठिया चला जाता है| लहसुन का तेल बनाकर शरीर पर मालिश भी करनी चाहिए|


6. हिस्टीरिया

लहसुन की दो पूतियां पीसकर घी में भून लें| इसके बाद इसमें थोड़ी-सी सोंठ तथा पीपरामूल का चूर्ण मिलाएं| प्रतिदिन एक चम्मच चूर्ण सुबह के समय खाने से हिस्टीरिया का रोग जाता रहता है|


7. लकवा (पक्षाघात)

250 ग्राम लहसुन को एक किलो सरसों के तेल में कड़ाही में औटाएं| जब तेल अच्छी तरह पक जाए तो उसे उतारकर ठंडा कर लें| इस तेल से रोगग्रस्त स्थानों की मालिश करें|


8. मधुमेह

प्रतिदिन चौथाई चम्मच नीम की पत्तियों के रस में दो बूंद लहसुन का रस मिलाकर सेवन करने से मधुमेह का रोग जाता रहता है|


9. सूजन

आवां हल्दी और लहसुन – दोनों को पीसकर सूजन वाले स्थान पर बांधने से सूजन चली जाती है| दिल की खराबी से होने वाली सूजन के लिए दो पूती लहसुन, अर्जुन की छाल, साठी की जड़ एवं त्रिफला का काढ़ा बनाकर रोगी को पिलाएं|


10. नजला (जुकाम)

लहसुन को कुचलकर खाने तथा बार-बार सूंघने से नजला या जुकाम कम हो जाता है|


11. दमा (श्वास रोग)

लहसुन की 8-10 पूतियों को आग में भूनकर पीस लें| इस चूर्ण में सोमलता, कूट, बहेड़ा, मुलहठी और अर्जुन की छाल का समभाग चूर्ण मिलाएं| फिर एक चम्मच चूर्ण प्रतिदिन शहद के साथ सेवन करें|


12. फ्लू

एक पूती लहसुन, चार पत्ती तुलसी, चार दाने कालीमिर्च और एक चुटकी सेंधा नमक – सबका काढ़ा बनाकर पीने से फ्लू शान्त हो जाता है|


13. दाद-खाज

लहसुन को भूनकर पीस डालें| फिर इसमें घी मिलाकर दाद-खाज पर लगाएं| अवश्य लाभ होगा|


14. मुंह के छाले

लहसुन की दो कलियां कुचलकर एक गिलास पानी में औटाएं| फिर इस पानी को ठंडा करके दिनभर में तीन-चार बार कुल्ला करें| मुंह के छाले ठीक हो जाएंगे|

NOTE: इलाज के किसी भी तरीके से पहले, पाठक को अपने चिकित्सक या अन्य स्वास्थ्य देखभाल प्रदाता की सलाह लेनी चाहिए।

Consult Dr. Veerendra Aryavrat - +91-9254092245 (Recommended by SpiritualWorld)
Consult Dr. Veerendra Aryavrat +91-9254092245
(Recommended by SpiritualWorld)

Health, Wellness & Personal Care Store – Buy Online

Click the button below to view and buy over 50000 exciting ‘Wellness & Personal Care’ products

50000+ Products
Munish Ahuja Founder SpiritualWorld.co.in

Munish Ahuja Founder SpiritualWorld.co.in

नम्र निवेदन: वेबसाइट को और बेहतर बनाने हेतु अपने कीमती सुझाव कॉमेंट बॉक्स में लिखें, यह आपको अच्छा लगा हो तो अपनें मित्रों के साथ अवश्य शेयर करें। धन्यवाद।
NO COMMENTS

LEAVE A COMMENT

🙏 सतनाम वाहे गुरु, गुरु पर्व की असीमित शुभकामनाएं... आप सभी पर वाहे गुरु की मेहर हो! 23 Nov 2018 🙏