🙏 भारतीय हस्तशिल्प खरीदें और समर्थन करें 🙏

Home09. राजविद्याराजगुह्ययोग

09. राजविद्याराजगुह्ययोग (5)

आसुरी व दैवी स्वभाव (सम्पूर्ण श्रीमद्‍भगवद्‍गीता – अध्याय 9 शलोक 11 से 15)

ज्ञान वर्णन (सम्पूर्ण श्रीमद्‍भगवद्‍गीता – अध्याय 9 शलोक 1 से 6)

पूजा के फल (सम्पूर्ण श्रीमद्‍भगवद्‍गीता – अध्याय 9 शलोक 20 से 25)

भगवान की महिमा (सम्पूर्ण श्रीमद्‍भगवद्‍गीता – अध्याय 9 शलोक 16 से 19)

संसार उत्पत्ति वर्णन (सम्पूर्ण श्रीमद्‍भगवद्‍गीता – अध्याय 9 शलोक 7 से 10)

🙏 भारतीय हस्तशिल्प खरीदें और समर्थन करें 🙏