🙏 ♻ प्रयास करें कि जब हम आये थे उसकी तुलना में पृथ्वी को एक बेहतर स्थान के रूप में छोड़ कर जाएं। सागर में हर एक बूँद मायने रखती है। ♻ 🙏
Home16. दैवासुरसम्पद्विभागयोग

16. दैवासुरसम्पद्विभागयोग (3)

आसुरी सम्पदा के चिहन् (अध्याय 16 शलोक 6 से 20)

दैवी और आसुरी सम्पद् (अध्याय 16 शलोक 1 से 5)

शास्त्रोक्त आचरण प्रेरणा (अध्याय 16 शलोक 21 से 24)

🙏 ♻ प्रयास करें कि जब हम आये थे उसकी तुलना में पृथ्वी को एक बेहतर स्थान के रूप में छोड़ कर जाएं। सागर में हर एक बूँद मायने रखती है। ♻ 🙏